SHARE
University of hyderabad
University of hyderabad
Now Save on Facebook and Read any Time You want.

नई दिल्ली। हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के 18वें दीक्षांत समारोह में आज (शनिवार) डॉ सुन्कन्ना वेलपुला ने वाइस चांसलर अप्पा राव पोडिले के हाथों पीएचडी डिग्री लेने से इनकार कर दिया। रोहित वेमुला के साथी सुनकन्ना उन छात्रों में शामिल थे जिनका यूनिवर्सिटी ने सामाजिक बहिष्कार किया था। गरीब पृष्ठभूमि से आने वाले सुन्कन्ना अब मुंबई TISS में प्रोफेसर हैं।

गौरतलब है कि पिछले साल पांच दलित छात्रों के निष्काषन के बाद हैदराबाद यूनिवर्सिटी चर्चा में आई थी। बाद में कोर्ट के आदेश के बाद छात्रों को क्लास लेने की अनुमति दी गई लेकिन उनका छात्रावास से निष्काषन बरकरार रखा गया।

इतना ही नहीं छात्रों को हर स्तर पर प्रताड़ित किया गया। प्रशासनिक प्रताड़ना से तंग आकर 27 वर्षीय स्कॉलर रोहित वेमुला ने हॉस्टल में आत्महत्या कर ली।

इस घटना का देश ही नहीं विदेशों में भी विरोध हुआ लेकिन केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्तात्रेय और मानव संसाधन विकास मंत्रालय की सीधी दिलचस्पी होने के कारण रोहित वेमुला को इंसाफ नहीं मिल पाया। छात्रों ने अप्पाराव का विरोध जारी रखा। छात्रों के तमाम विरोध के बाद भी एमएचआरडी ने अप्पा राव पर कोई कार्रवाई नहीं की।

रोहित वेमुला मामले में सरकार दत्तात्रेय और अप्पा राव को बचाने के नए-नए तरीके खोजती रही। सिर्फ इतना ही नहीं रोहित वेमुला की जाति को लेकर भी जांच बिठाई गई।